Home बिहार पटना बिहार में कोरोना से सातवीं मौत, आज फिर मिले 53 नए मरीज, कुल 932

बिहार में कोरोना से सातवीं मौत, आज फिर मिले 53 नए मरीज, कुल 932

10 second read
0
0
196

पटना । बिहार में कोरोना के सातवें संक्रमित मरीज की आज पटना के कोरोना अस्पताल एनएमसीएच में मौत हो गई है। बिहार में पहली बार किसी महिला मरीज की कोरोना से मौत हुई है। महिला कैंसर की बीमारी से जूझ रही थी। महिला मरीज पटना के आलमगंज थाना के  मक्खनपुर ईदगाह की रहनेवाली थी और कोरोना संक्रमण के कारण एनएमसीएच में उसका इलाज चल रहा था और आज सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई।

वहीं, आज भी कोरोना के 53 नए मरीज मिले हैं। पहली रिपोर्ट में एक साथ 29, तो दूसरी रिपोर्ट में एक साथ 24 नए मरीज मिले हैं, जिसमें पटना के चार, मुजफ्फरपुर के तीन, सिवान के चार, बांका के चार, भोजपुर के सात, और एक-एक कैमूर और मधुबनी के हैं। इसके बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या अब 932 हो गई है।

आज आई पहली लिस्ट में नए मरीजों में नौ नवादा, सात भोजपुर, छह भागलपुर, चार-चार खगड़िया, पटना, बांका व सिवान, तीन-तीन रोहतास, बेगूसराय, बक्‍सर व मुजफ्फरपुर, दो गोपालगंज और एक-एक मधुबनी व कैमूर जिले के संक्रमित श‍ामिल हैं।

कोरोना के छठे मरीज की रविवार को हुई थी मौत

इससे पहले कोरोना पॉजिटिव छठे मरीज की रविवार को पटना के पीएमसीएच में मौत हो गई थी, वह 60  साल का था और अस्थमा से पीड़ित था। उसकी मौत के बाद कोरोना की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गई थी। आज एक महिला की मौत हो गई है।इस तरह से पटना के आज दूसरे मरीज की कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु हुई है।

वहीं कोरोना मरीजों की संख्या बिहार में लगातार बढ़ती जा रही है। मंगलवार को एक ही दिन में कुल 130 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, जिसके बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या अब 879 हो चुकी है। इनमें से कुल 386 मरीज ठीक हो चुके हैं और अब सात मरीजों की मौत हो चुकी है।

नालंदा के उच्च पदाधिकारी भी मिले कोरोना पॉजिटिव

नालंदा जिले में मंगलवार की रात 12 कोरोना पॉजिटिव मामले में कोरोना से संक्रमित हिलसा के एक उच्च प्रशासनिक अफसर भी हैं। उन्हें पटना एनएमसीएच के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया गया है। अफसर के कोरोना संक्रमित मिलने से हड़कंप मच गया है। लॉक डाउन अवधि में उनके सम्पर्क में आए कर्मी व अफसर सशंकित हैं। बुधवार दोपहर बाद कई सरकारी अफसरों व कर्मियों को क्वारनटाईन किया जा सकता है। याद दिला दें कि बीते साल हिलसा एसडीओ सृष्टि राज की डेंगू से मौत हो गई थी।

बिहार में कब-कब हुई कोरोना संक्रमितों की मौत, जानिए…

-बिहार में 22 मार्च को हुई थी कोरोना से पहली मौत, मुंगेर का था युवक जो कतर से लौटा था। उसे किडनी की बीमारी थी। मौत के बाद उसकी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

-17 अप्रैल को बिहार में कोरोना से हुई थी दूसरी मौत, पटना एम्स में वैशाली जिले के राघोपुर के रहनेवाले युवक की गई थी जान, वह 35 साल का था और दो साल से बीमार था। 17 अप्रैल को इलाज के दौरान एम्स में दम उसने दम तोड़ दिया था।

– एक मई को पटना के NMCH में कोरोना से तीसरी मौत हुई थी। मृतक मोतिहारी का रहनेवाला था और उसकी उम्र 54 साल थी। साल भर से इस पीड़ित को कैंसर था।

-2 मई को कोरोना से बिहार मे हुई थी चौथी मौत।पटना के NMCH में  45 साल के शख्स की, जो कैंसर का मरीज था उसकी इलाज के दौरान मोत हो गई थी।

-कोरोना से छठी मौत सासाराम के 70 साल के बुजुर्ग की हुई थी जो सासाराम के  नारायण मेडिकल कॉलेज जमुहार में भर्ती थे। मृतक को पहले से ही सांस से जुड़ी बीमारी थी।

Load More By Bihar Desk
Load More In पटना

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

जेपी के विकास मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, अगले वर्ष पांच जून को होगा राष्ट्रीय आयोजन

मुजफ्फरपुर । लोकनायक जयप्रकाश के मुशहरी आगमन के 50 साल पूरा होने पर विचार गोष्ठी का आयोजन …