Home बिहार दूसरे प्रदेशों से बिहार आने वालों की सुविधाओं का निरंतर मॉनिटरिंग करें: नीतीश

दूसरे प्रदेशों से बिहार आने वालों की सुविधाओं का निरंतर मॉनिटरिंग करें: नीतीश

1 second read
0
0
142

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि लॉकडाउन के दौरान विशेष ट्रेनों से बिहार आ रहे लोगों की हर सुविधाओं का निरंतर मॉनिटरिंग करते रहें। बिहार आने के क्रम में और फिर यहां आने के बाद उनकी सुविधा का पूरा ख्याल रखें। प्रखंड और पंचायत स्तर पर बने क्वारेंटाइन सेंटर पर सभी आवश्यक सुविधाओं का प्रबंध सुनिश्चत करें।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को मुख्य सचिव और अन्य आलाधिकारियों के साथ इन मामलों पर समीक्षा बैठक की और कई निर्देश उनसभी को दिए। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य में 201 आपदा राहत केंद्र चलाए जा रहे हैं, जहां पर 60 हजार से अधिक लोग रह रहे हैं। उन्हें भोजन, आवासन और चिकित्सकीय सुविधाएं वहां पर दी जा रही हैं।

 पंचायतों में 1353 क्वारंनटाइन सेंटर चल रहे हैं, जहां पर 13600 लोग रह रहे है। बिहार के बाहर फंसे लोगों द्वारा मुख्यमंत्री सहायता राशि के लिए किए गए आवेदनों सभी आवेदनों की जांच लगभग पूरी हो गई है। 18.78 लाख आवेदन सही पाए गए हैं, जिन्हें एक-एक हजार भेज दी गई है।

दस ट्रेनें आज बिहार के लिए चल रहीं
उन्होंने कहा कि विभिन्न राज्यों से दस ट्रेनें रविवार को बिहार के लिए खुलने वाली हैं। इनमें केरल से चार, कोटा से तीन और बेंगलुरु से दो ट्रेनें शामिल हैं।

पौने छह करोड़ लोगों की स्क्रीनिंग
स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार ने कहा कि विशेष अभियान के तहत राज्य के एक करोड़ पांच लाख घरों के पौने छह करोड़ लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। इनमें 3420 लोगों में सर्दी, खांसी और बुखार के सामान्य लक्षण पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में कोरोना से ठीक हो रहे मरीजों की संख्या करीब 25 प्रतिशत है।

Load More By Bihar Desk
Load More In बिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

जेपी के विकास मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, अगले वर्ष पांच जून को होगा राष्ट्रीय आयोजन

मुजफ्फरपुर । लोकनायक जयप्रकाश के मुशहरी आगमन के 50 साल पूरा होने पर विचार गोष्ठी का आयोजन …