Home विदेश ब्रिटेन में एक और भारतीय मूल के डॉक्टर का निधन, अमेरिका में तीन ने गंवाई जान

ब्रिटेन में एक और भारतीय मूल के डॉक्टर का निधन, अमेरिका में तीन ने गंवाई जान

0 second read
0
0
203

ब्रिटेन में एक और भारतीय मूल के डॉक्टर की कोरोना वायरस की चपेट में आने की वजह से सोमवार को मौत हो गई है। डॉक्टर का नाम मंजीत सिंह रियात है। जिनकी डर्बिशायर में डॉक्टर और मरीज बहुत इज्जत करते थे। वे आपातकालीन चिकित्सा सलाहकार थे।  
रियात ने 1992 में यूनिवर्सिटी ऑफ लेसेस्टर से अपनी मेडिकल की पढ़ाई की थी। वे राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा के दुर्घटना और आपातकालीन सेवा में सलाहकार बनने वाले पहले सिख थे। उनके अस्पताल के ट्रस्ट ने बताया कि उन्होंने डर्बीशायर में आपातकालीन चिकित्सा सेवा निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स ऑफ डर्बी एंड बर्नटन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गैविन बॉयल ने कहा, ‘मैं मंजीत रियात को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं जिनका आज निधन हो गया है। वह अविश्वसनीय रूप से आकर्षक व्यक्ति थे जिन्हें सभी प्यार करते थे। वे अस्पताल में बहुत सारे लोगों को जानते थे। हम उन्हें बहुत ज्यादा याद करेंगे।’

रियात की सहकर्मी सुसी बेविट ने कहा, ‘2003 में मंजीत डर्बीशायर रॉयल इन्फर्मरी में आपातकालीन चिकित्सा में चार में से एक सलाहकार बने थे। मंजीत की एक सहकर्मी, पर्यवेक्षक और संरक्षक के रूप में काफी इज्जत की जाती थी। करियर के दौरान उनका शिक्षण और चिकित्सा शिक्षा में योगदान को लेकर जुनून बना हुआ था। उनके पास कई कौशल थे, लेकिन आपातकालीन चिकित्सा सलाहकार के रूप में वे बेहतरीन थे।’ रियात के परिवार में पत्नी और दो बेटे हैं। इससे पहले महीने की शुरुआत में भारतीय मूल के डॉक्टर जीतेंद्र कुमार राठौड़ की मौत हो गई थी।

अमेरिका में तीन डॉक्टर्स की मौत
पिछले हफ्ते कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे तीन भारतीय डॉक्टर्स की मौत हो गई। अमेरिका के न्यूयॉर्क में कोरोना संक्रमित का इलाज करने के दौरान डॉक्टर माधवी कोरोना की चपेट में आ गईं और उनकी मौत हो गई। इसी तरह न्यूजर्सी में कोरोना मरीज की जांच कर रहे एक डॉक्टर के चेहरे पर मरीज ने उल्टी कर दी। जिसके बाद वह संक्रमण की चपेट में आ गए। उन्हें बचाया नहीं जा सका। न्यूजर्सी में ही 43 साल की किडनी रोग विशेषज्ञ प्रिया खन्ना की कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई है।

Load More By Bihar Desk
Load More In विदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

जेपी के विकास मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, अगले वर्ष पांच जून को होगा राष्ट्रीय आयोजन

मुजफ्फरपुर । लोकनायक जयप्रकाश के मुशहरी आगमन के 50 साल पूरा होने पर विचार गोष्ठी का आयोजन …