Home ताजा खबर भारत को अमेरिकी हार्पून मिसाइल और टॉरपीडो की बिक्री पर बौखलाया पाकिस्तान

भारत को अमेरिकी हार्पून मिसाइल और टॉरपीडो की बिक्री पर बौखलाया पाकिस्तान

4 second read
0
0
147

पाकिस्तान ने शुक्रवार (17 अप्रैल) को कहा कि अमेरिका द्वारा भारत को पोत-रोधी मिसाइलों की बिक्री “परेशान करने वाली” है और इससे क्षेत्र में “अस्थिरता” पैदा होगी। अमेरिकी विदेश विभाग ने भारत को हार्पून मिसाइलें और मार्क 54 टॉरपीडो बेचने के अपने संकल्प के बारे में इसी सप्ताह कांग्रेस को सूचित किया। 

पाकिस्तान विदेश कार्यालय की प्रवक्ता आइशा फारूकी ने यहां संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अमेरिका द्वारा भारत को मिसाइलों की बिक्री परेशान करने वाली है। उन्होंने कहा, “तकनीकी सहायता और साजोसामान मदद के साथ इस तरह की मिसाइल प्रणालियों की बिक्री परेशान करने वाली है, जब महामारी से लड़ने के लिए वैश्विक प्रयास किए जा रहे हैं…इससे दक्षिण एशिया की पहले से ही संवेदनशील स्थिति अस्थिर होगी।”

समंदर में बढ़ेगी भारत की ताकत, अमेरिका ने टॉरपीडो और हारपून मिसाइल की बिक्री को दी मंजूरी

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने भारत को अत्याधुनिक हथियारों की बिक्री के बारे में अपनी चिंताओं को स्पष्ट किया है। पाकिस्तान और भारत के बीच उच्चायुक्त स्तर तक राजनयिक संबंधों की बहाली के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए, फारूकी ने कहा कि पाकिस्तान हमेशा अपने सभी पड़ोसी देशों के साथ अच्छे संबंध चाहता है। उन्होंने कहा, “सार्थक बातचीत के लिए भारत को अनुकूल माहौल बनाने की जरूरत है ताकि कश्मीरी लोगों की इच्छा और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के अनुसार कश्मीर मुद्दे का समाधान हो सके।”

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के प्रशासन ने कुछ ही दिन पहले 15.5 करोड़ डॉलर की हारपून ब्लॉक II एयर लॉन्चड मिसाइलें और हल्के वजन के टॉरपीडो भारत को बेचने की अपनी प्रतिबद्धता से संसद को अवगत कराया। ‘डिफेंस सिक्योरिटी को-ऑपरेशन एजेंसी ने संसद को दो विभिन्न अधिसूचनाओं बताया कि इन 10 AGM-84L हारपून ब्लॉक II मिसाइलों की कीमत 9.2 करोड़ डॉलर है जबकि हल्के वजन के 16 ‘एमके 54 ऑल राउंड टॉरपीडो और तीन ‘एमके 54 एक्सरसाइज टॉरपीडो की कीमत करीब 6.3 करोड़ डॉलर है।

Load More By Bihar Desk
Load More In ताजा खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

जेपी के विकास मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, अगले वर्ष पांच जून को होगा राष्ट्रीय आयोजन

मुजफ्फरपुर । लोकनायक जयप्रकाश के मुशहरी आगमन के 50 साल पूरा होने पर विचार गोष्ठी का आयोजन …