Home ताजा खबर दिल्ली की जनता ने हजारों की तादाद में पुलिस को वीडियो भेजे हैं- शाह

दिल्ली की जनता ने हजारों की तादाद में पुलिस को वीडियो भेजे हैं- शाह

18 second read
Comments Off on दिल्ली की जनता ने हजारों की तादाद में पुलिस को वीडियो भेजे हैं- शाह
0
19

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में दिल्ली हिंसा पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि, सबसे पहले मैं इन दंगों के दौरान जिन लोगों की जान गई हैं, उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं और उनके परिवारों के प्रति भी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। विगत कुछ दिनों में जिस प्रकार से देश और दुनिया में इन दंगों को प्रस्तुत किया जा रहा है और आज भी इस सदन में जिस प्रकार से रखने का प्रयास हुआ है, मैं बड़े संयम के साथ इसको स्पष्ट करना चाहूंगा।

लेकिन जब दंगों की बात हो और पुलिस मैदान में जूझ रही हो और उसे जांच करके आगे भी इसके तथ्यों को कोर्ट के सामने रखना है तो उस समय हमें वास्तविकता को समझना चाहिए। काफी सारे सदस्यों ने एक सवाल उठाया कि दिल्ली पुलिस क्या कर रही थी? साथ ही उन्होंने कहा कि, इस सदन के अंदर विपक्ष का ये दायित्व है कि सत्ता पक्ष और उसके अधीन विभागों की कड़ी आलोचना करे और उनकी निगरानी रखे और कहीं गलती होती है तो उसे सदन में भी और बाहर भी उठाए।

दिल्ली पुलिस के सर पर सबसे पहली जिम्मेदारी हिंसा को रोकना थी। 24 फरवरी, 2020 को 2 बजे के आस-पास पहली सूचना प्राप्त हुई थी और अंतिम सूचना 25 फरवरी को रात 11 बजे प्राप्त हुई। दिल्ली पुलिस ने 36 घंटे में दंगे को समाप्त करने का काम किया है। शाह ने कहा, मैं अगले दिन वहां गया, जब तक कोई घटना नहीं हुई थी। मैं यहां शाम 6.30 को यहां गया और अगले दिन श्रीमान ट्रम्प के जितने भी कार्यक्रम थे, किसी में भी मैं नहीं गया।

आप मुझ पर सवाल उठा सकते हैं और आपको ये अधिकार है, लेकिन तथ्यों के साथ तोड़-फोड़ करने का किसी का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं श्रीमान ट्रम्प के कार्यक्रम में बैठा था, उनका कार्यक्रम पहले से तय था और मेरे संसदीय क्षेत्र में था। मैंने ही श्री अजित डोभाल से विनती की थी कि आप वहां जाइए और पुलिस का मनोबल बढ़ाइए, मेरी ही विनती पर वो वहां गए थे। कुछ लोगों ने कहा कि CRPF, मिलिट्री भेजनी चाहिए थी। 23 तारीख को 17 कंपनी दिल्ली पुलिस की, 13 कंपनी CRPF की कुल 30 कंपनी क्षेत्र में पहले से ही रखी थी।

हमने लोगों से, मीडिया से दंगों का फुटेज मांगा है और मुझे कहते हुए आनंद है कि दिल्ली की जनता ने हजारों की तादाद में पुलिस को वीडियो भेजे हैं। मुझे आशा है कि अंकित शर्मा के खून का भेद भी वो ही वीडियों में से बाहर आने वाला है।

Load More By Bihar Desk
Load More In ताजा खबर
Comments are closed.

Check Also

जेपी के विकास मॉडल से दूर होगी बेरोजगारी, अगले वर्ष पांच जून को होगा राष्ट्रीय आयोजन

मुजफ्फरपुर । लोकनायक जयप्रकाश के मुशहरी आगमन के 50 साल पूरा होने पर विचार गोष्ठी का आयोजन …